close button

वचन बदलने वाले शब्द | Vachan Badlo in Hindi

Vachan Badlo in Hindi : यहाँ हम वचन बदलने वाले शब्द उपलब्द कराये है जो छात्र अभी पढाई करते है उनको अक्सर Vachan Badlo लिखने के लिए मिलता है ऐसे में बहुत सारे बच्चो को किसी शब्द का का बहुवचन मालूम नहीं होता है इस लिए हमने उन लोगो के लिए 251+ वचन बदलने वाले शब्द उपलब्द कराये है।

आज कल के छात्र ज्यादातर कॉपी किताब से ज्यादा इन्टरनेट पर समय बिता रहे है इसलिए हमने सोचा क्यों न आपके लिए इन्टरनेट पर Vachan Badlo in Hindi कराया जाये, इस लेख में जिन बच्चो को वचन बदलने वाले शब्द खोजने में परेशानी होती है उसके लिए ये पोस्ट अच्छा साबित होगा।

Vachan Badlo in Hindi

वचन किसे कहते है – वचन की परिभाषा

संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और किया के जिस रूप से संख्या (एक या अनेक) का बोध हो उसे वचन कहते है।

जैसे—

  • लड़का पढ़ रहा है — लड़के पढ़ रहे है।
  • हम हंस रहे है। — हम लोग हंस रहे है।

यहाँ ऊपर आपको दो वाक्य देखने को मिल रहा होगा है “एक लड़का पढ़ रहा है” इसलिए यह एक वचन है और दूसरी साइड लिखा है “लड़के पढ़ रहे है” यहाँ अनेको लड़के पढ रहे है इसलिए यह बहु वचन है इसी तरह “हम हंस रहे है” एक वचन है और “हम लोग हंस रहे है” बहुतवचन है।

वचन कितने प्रकार के होते हैं

  • एकवचन
  • बहुवचन

1. एकवचन :- शब्द के जिस रूप से एक व्यक्ति या वस्तु का बोध हो उसे एकवचन कहते हैं।

जैसे— लड़का, घोड़ा, कुत्ता, कलम, बहन, लड़की, शाखा मैं, तू आदि । 

2. बहुवचन :- शब्द के जिस रूप से एक से अधिक व्यक्तियों या वस्तुओं का बोध हो उसे बहुवचन कहते है।

जैसे— लड़के, घोड़े, कुत्ते, कलमे, बहनें, लड़कियाँ शाखाएं, हम तुम आदि।

वचन बदलने वाले शब्द – Vachan Badlo

एकवचनबहुवचन
कलमकलमें
केलाकेलें
कोठाकोठें
कविताकविताएं
किताबकिताबें
कुर्सीकुर्सीयां
कलीकलियाँ
कन्याकन्याएं
कारकारें
कालाकालें
कक्षाकक्षाओं
कुरताकुरते
कुत्ताकुत्ते
कामनाकामनाएं
कथाकथाएं
कर्मचारीकर्मचारीवर्ग
कविकविगण
काकाकाका
कबूतरकबूतरों
कॉपीकॉपियाँ
कचोरी कचोरियाँ
कन्धाकन्धों
कुल्फीकुल्फियाँ
खटियाखटियाँ
खुरपीखिरपियाँ
खिलाड़ीखिलाड़ीयां
खंभाखंभे
खेलखेलों
खेतखेतों
गिलासगिलासें
गायगायें
गधागंधें
गायकगायकों
गहनागहने
ग्रहग्रहे
गोलागोले
गरीबगरीब लोग
गौगौएँ
गाड़ीगाड़ियाँ
गऊगउएँ
गतिगतियाँ
गुड़ियागुड़ियाँ
गन्नागन्ने
गलीगलियाँ
गुरुगुरुजन
गोल गोलें
गेंदगेंदे
घोडा घोड़े
घोंसला घोसलें
घोसना घोसने
घड़ी घड़ियाँ
घंटा घंटे
घटनाघटनाएँ
घर घरे
चोटि चोटियाँ
चूहिया चुहियाँ
चना चने
चप्पलचप्पलें
चश्माचश्मे
चाचाचाचा
चादरचादरे
चीताचीते
छाता छाते
छोटा छोटे
जानवरजानवरे
जुजुएँ
जूताजीते
जंगल जंगले
जाती जातियाँ
झड़ी झड़ियाँ
झीलझीलें
झूला झूले
झोपड़ी झिपड़ियाँ
टाँग टाँगे
टोपी टोपियाँ
टंकी टंकियाँ
टुकड़ी टुकड़ियाँ
ठिकाना ठिकाने
ठठेरा ठठेरे
डिबिया डिबियाँ
डोली डोलियाँ
डंडा डंडे
ढोलक ढोलके
ढकन ढकने
नदी नदियाॅं
नाला नाले
नौकर नौकरो
निधि निधियाँ
नारी नारियाॅं
नीति नीतियाँ
नजदीक नजदीकियाँ
नीति नीतियाँ
नहर नहरे
नल नालें
नृतक नृतकों
नक्शा नक्शे
नाली नालियाँ
ताली तालियाँ
तिथि तिथियाँ
तोता तोते
तरु तरुओ
तारा तारे
ताल तले
तितली तुतलियाँ
तलवार तलवारे
तांत्रिक तांत्रिकाएँ
तालाब तालाबों
तस्वीर तस्वीरें
तौलियातौलिये
थाली थालियाँ
थकावट थकावटें
दीवार दीवारें
दूरी दूरियाँ
दाना दाने
दवादवाएँ
दलित दलित समाज
देवी देवियाँ
दवाई दवाइयाँ
दावत दावतें
देव देवगण
दरवाजा दरवाजे
देश देशों
देवता देवताओ
दांत दाँतों
दफ्तर दफ्तरों
दाना दानें
ध्वनि ध्वनियाँ
धेनु धेनुएँ
धारा धरेएँ
धातु धातुएँ
धमनी धनमियाँ
धारावाहिक धारावाहिकों
प्याला प्याले
पैर पैरे
परदा परदे
प्रजा प्रजाजन
पत्ती पत्तीयाँ
पंखा पंखे
पौधा पौधे
पटाखा पटाखे
पहिया पहिए
पेटी पेटियाँ
परीक्षा परीक्षाएं
पत्रिका पत्रिकाएँ
पारी पारियाँ
पसली पसलियाँ
पहाड़ी पहाड़ियाँ
फसलफसलें
फूलफूल
फिल्म फ़िल्में 
बातबातें
बच्चाबच्चे
बछड़ाबछड़े
 बहनबहने
बातबातें
बालकबालकगण
बहूबहुएँ
बंगलाबंगले
बिल्लीबिल्लियाँ
बर्फीबर्फियाँ
बुढियाबुढियाँ
बकरीबकरियाँ
बस्ताबस्ते
बेटाबेटे
बर्तनबर्तन
बादलबादल
बिजली बिजलियाँ 
बांध बांधों 
बाल बालों 
बोतल बोतलें 
बत्ती बतियाँ 
भाईभाई
भेड़भेड़ें
भक्तभक्तगण
भुजाभुजाएँ
भालाभाले
भोजनालय भोजनालयों 
मातामाताएँ
मुर्गीमुर्गियाँ
मैदानमैदान
महलमहल
मुद्रामुद्राएँ
मटकामटके
मिठाईमिठाईयाँ
मक्खीमक्खियाँ
मछलीमछलियाँ
मेलामेले
मुर्गामुर्गे
मित्रमित्रजन
मेजमेजें
मोर मोर 
यात्रायात्राएँ
योग्य योग्यता
रेखारेखाएँ
रास्तारास्ते
रीतिरीतियाँ
रिश्तारिश्ते
रातरातें
रोटीरोटियाँ
रुपयारूपये
रानीरानियाँ
रजाई रजाईयाँ 
राजा राजाओं 
रसगुल्ला रसगुल्ले 
राज्य राज्यों 
राजधानी राजधानियाँ 
लुटियालुटियाँ
लठियालुठियाँ
लड़कालड़के
लड़कीलड़कियाँ
लतालताएँ
लड़ीलड़ियाँ
लोटालोटे
लकीरलकीरें
लड़ीलड़ियाँ
लकड़ी लकड़ियाँ 
वस्तुवस्तुएँ
व्यापारीव्यापारीगण
वाद्यवाद्य
विद्यार्थीविद्यार्थीगण
विद्याविद्याएँ
विधिविधियाँ
वधूवधुएँ
वादावादे
वस्तुवस्तुएँ
विदेश विदेशों 
श्रोताश्रोतागण
शिक्षकशिक्षकगण
शीशाशीशे
शेरशेर
शाखाशाखाएँ
शक्तिशक्तियाँ
शेरनीशेरनियाँ
शिलाशिलाएँ
शहर शहरों 
साड़ीसाड़ियाँ
साथीसाथियों
सुधीसुधिजन
समुद्रसमुद्र
सेनासेनादल
सहेलीसहेलियाँ
सड़कसड़कें
सपेरासपेरे
साइकिलसाइकिलें
स्त्रीस्त्रियाँ
सब्जीसब्जियाँ
सभासभाएँ
सीमासीमाएँ
सुईसुइयाँ
सन्तरा सन्तरे 
हथियारहथियार
हाथीहाथीगण
हमहमलोग
हथौड़ी हथौड़ियाँ 

FAQ

Q : वचन का सही अर्थ क्या हैं?

Ans : वचन का अर्थ ‘बोली’, होता है लेकिन हिन्दी व्याकरण में ‘वचन’ संख्यक होता है। संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और किया के जिस रूप से संख्या (एक या अनेक) का बोध हो उसे वचन कहते है।

Q : एकवचन में रहने वाले शब्द कौन हैं?

Ans : सोना, चांदी, पीतल, घी, जनता, आकाश, तेल, वर्षा, सत्य, दल, टोली आदि एकवचन रहने वाले शब्द हैं.

Q : बहुवचन में रहने वाले शब्द कौन हैं?

Ans : बाल, लोग, प्राण समाचार, हस्ताक्षर, आंसू, दर्शन आदि सदा बहुवचन रहने वाले शब्द हैं.

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करे।

इसे भी पढ़े :-

Leave a Comment