close button

Season Name in Hindi | जानिए सभी ऋतुओ के नाम हिंदी व अंग्रजी में 

Season Name in Hindi : समय के अनुसार ऋतुओ में बदलाव होता है जैसे, ठंडा का मौसम, गर्मी का मौसम, वर्षात का मौसम इत्यादि जलवायु और तापमान में होने वाले बदलाव के समय चक्र को ऋतू कहा जाता है हम सभी लोग जानते है की पृथ्वी सूर्य के चारो तरफ चक्कर लगाती है। 

आपको बता दे की ऋतुओ को बदलने में सबसे अहम् रोल सूर्य का होता है हमारी पृथ्वी पर तीन महत्वपूर्ण रेखाएं है, सबसे ऊपर कर्क रेखा, बिच में भूमध्य रेखा और सबसे निचे मकर रेखा होता है कर्क रेखा के सामने सूर्य होता है जून के महीने में, भूमध्य रेखा के सामने मार्च और सितम्बर के महीने में, और मकर रेखा के सामने होता है। 

Season Name in Hindi

दिसंबर के महीने में, आपको पता ही होगा की भारत के बीचो बीच से कर्क रेखा गुजरती है अब सूर्य जहाँ भी रहेगा। 

उसके हिसाब से मौसम बदलता रहता है मान लीजिये अगर सूर्य पृथ्वी के बीच के रेखा भूमध्य रेखा पर अगर सूर्य चला जाये तो हमें न ज्यादा ठंडी लगेगी और नाही ज्यादा गर्मी होगी यही दो महिना मार्च और सितम्बर न ज्यादा ठंडी लगती है न ज्यादा गर्मी क्योकि यह रेखा पृथ्वी के बीच में है सूर्य पृथ्वी के बीच में होता है। 

भारत में ऋतुओ को 6 भागों में बांटा गया है जो लोग पढाई से तालुक रखते है उनको अक्सर Season Name in Hindi के बारे में पूछा जाता है जिनको Season Name पता नहीं है उसको आज पूरी अच्छी तरह से Bharat ki 6 Ritu ke Naam in Hindi and English के बारे में जानकारी देंगे।

ऋतुओ के बारे में जानकारी 

भारत के हिन्दू कलेंडर में ऋतुओ को 6 भागों में बांटा गया है इसमें हर मौसम 2 माह का मना गया है, वही अंग्रेजी कलेंडर के मुताबिक मौसम को 3 अलग-अलग रूप में विभाजित किया गया है इसमें हर मौसम 4 महीने का माना जाता है दोनों का मत अलग अलग है।

भारत में होने वाले सभी पर्व ऋतुओ के अनुसार मनाया जाता है आइये आपको Six Seasons Name in Hindi के बारे में बताते है।

6 Season Name in Hindi

ऋतुओं के नाम हिंदी मेंहिन्दू महीने में ऋतुSeason Name in Englishin Between of
वसंत ऋतुचैत्र से वैशाखSpring SeasonMar-Apr
ग्रीष्म ऋतुज्येष्ठ से आषाढ़Summer SeasonApr-June
वर्षा ऋतुआषाढ़ से सावनRainy SeasonJune-Aug
शरद ऋतुभाद्रपद से आश्विनAutumn SeasonAug-Oct
हेंमत ऋतुकार्तिक से पौष PreWinter SeasonOct-Dec
शीत ऋतुमाघ से फाल्गुनWinter SeasonDec-Feb

ऋतु के प्रकार – Types of Season in Hindi 

भारत में हिन्दू धर्म के अनुसार ऋतुओ को 6 भागों में बांटा गया है जिनका नाम बताया गया है आइये अब इन 6 ऋतुओ के बारे में बारी बारी से विस्तार प्रुवक जानते है।

  1. वसंत ऋतु (Spring Season)
  2. ग्रीष्म ऋतु (Summer Season)
  3. वर्षा ऋतु (Varsha Ritu)
  4. शरद ऋतु (Autumn Season)
  5. हेंमत ऋतु (Hemat Season)
  6. शीत ऋतु (Winter Season)

1. वसंत ऋतु (Spring Season in Hindi)

वसंत ऋतू देश भर में सबसे ज्यादा पसंद किये जाने वाला ऋतू होता है क्योकि इस सीजन में न तो ज्यादा गर्मी होती है और न तो ज्यादा ठंडा लगता है वसंत ऋतू को ऋतुओ का राजा भी कहा जाता है इस ऋतू में मैसम में बदलाव होता है वसंत ऋतू भारत में मार्च व अप्रैल के महीने में आती है।

Spring Season

यह सर्दियों के लम्बे इन्तेजार के बाद आती है, जिसमे लोगो को सर्धि और ठण्ड से राहत मिलती है वसंत ऋतू में तापमान में नमी रहती है और सभी जगह पेड़, पौधे और फूलो के कारण चारो तरफ हरियाली रहती है वसंत ऋतू के अगमन पर सब लोग वसंत पंचमी का त्यौहार मना कर खुशियाँ बांटते है।

वसंत के आने पर सर्दियों का अंत होता है और सब जगह हरियाली और खुशियाँ दिखाई देते है इस समय लोग हल्के कपड़े पहनना पसंद करते है और छोटे छोटे बच्चे पतंग उड़ाते है इस मौसम के शुरुआत में ही होती का पर्व आता है जो भारत में धूमधाम से मनाया जाता है।

वसंत ऋतु के प्रमुख त्यौहार

संख्यात्यौहार का नामFestival English Name
1.महा शिवरात्रि/शिवरात्रिMaha Shivaratri/Shivaratri
2.होलिका दहनHolika Dahana
3.होलीHoli
4.डोल्यात्राDolyatra
5.चैत्र सुखलादिChaitra Sukhladi
6.उगादीUgadi
7.गुडी पडवाGudi Padwa
8.राम नवमीRama Navami
9.महावीर जयंतीMahavir Jayanti
10.वैसाखीVaisakhi
11.मेसादी / वैशाखदिMesadi / Vaisakhadi
12.अम्बेडकर जयंतीAmbedkar Jayanti
13.गुड फ्राइडेGood Friday
14.जमात उल-विदाJamat Ul-Vida
15.ईस्टर दिवसEaster Day

2. ग्रीष्म ऋतु (Summer Season in Hindi)

गर्मी के मौसन को ग्रीष्म ऋतू कहा जाता है ग्रीष्म ऋतू भारत के 6 ऋतुओ में से एक है यह ऋतू अप्रैल, मई और जून के महीने में आता है यह साल का सबसे गर्म ऋतू माना जाता है इसमें काफी गर्मी होती है धुप काफी तेज होती है लोग घर से बाहर निकलने से घबराते है।

Summer Season

इसलिए सभी लोग मौसम के दौरान पेड़ के छाव में, पहाड़ी इलाको में ठंडी जगहों पर रहना पसंद करते है इस मौसम में लगने वाली तेज धुप से बचने के लिए लोग अपने घरो में ऐसी, कूलर, फंखे का इस्तेमाल करते है ताकि कुछ राहत मिल जाएँ ग्रीष्म ऋतू में अधिक्तर लोग सफ़ेद कपडे पहनना पसंद करते है।

इस मौसम में नदिया, पहाड़े, झरने सूखने लगते है जमीन कठोर हो जाता है किसान लोगो को खेती करने में काफी तकलीफ का सामना करना पड़ता है इस ऋतू में दिन बड़े और राते छोटी होती है और धुप की करणे काफी तेज लगती है ग्रीष्म ऋतू में आम, तरबूच, लीची, अंगूर, ककड़ी और खीरा फल पाये जाते है और लोग इन फलो को खूब पसंद करते है।

ग्रीष्म ऋतु के प्रमुख त्यौहार

संख्यात्यौहार का नामFestival English Name
1.गंगा दशहराGanga Dussehra
2.देवशयनी एकादशीDevshayani Ekadashi
3.वट सावित्री व्रतVat Savitri Vrat
4.निर्जला एकादशीNirjala Ekadashi
5.भगवान बुद्ध जयंती Lord Buddha Jayanti

3. वर्षा ऋतु (Varsha Ritu in Hindi)

ग्रीष्म ऋतू के बाद वर्षा ऋतू का आगमन होता है भारत में वर्ष ऋतू का शुरुआत जुलाई के महीने से होता है और सितम्बर तक वर्षा होती रहती है वर्षा ऋतू में आकाशा काली घटाओ से घिरा रहता है नदी, नाले, नगर, झरने पानी से लबालब भरे रहते है यह ऋतू किसानो के के लिए काफी लाभदायक होता है।

Varsha Ritu

इस ऋतू में किसान खरीफ फसल बोते है वर्षा काल में भूमि हरे वस्त्र घारण कर लेती है वन-उपवन और बाग़-बगीचे में नई रौनक आ जाती है गर्मी से झुलसी घरती की प्यास बुझ जाती है तथा भूमि का जल स्टार बढ़ जाता है मेढक प्रसन्न होतकर टर्र-टर्राने लगते है झींगुर एक स्वर में बोलते लगते है।

वनों में मोर नृत्य करने लगते है वर्ष ऋतू गर्मी से झुलसे प्राणी को शांति और राहत देती है इस मैसम में धान की खेती अधिक की जाती है।

संख्यात्यौहार का नामFestival English Name
1.संत कबीर की जयंतीbirth anniversary of saint kabir
2.जगन्नाथपूरी रथ यात्राJagannathpuri Rath Yatra
3.गुरुपूर्णिमाGuru Purnima
4.रक्षाबंधनRaksha Bandhan
5.कृष्ण जन्माष्टमीKrishna Janmashtami
6.योग दिवस (21 जून)Yoga Day (June 21)

4. शरद ऋतु (Autumn Season in Hindi)

भारत रंग-बिरंगी ऋतुओ का रंग मंच है फ्रिश्म ऋतुओ के बाद वर्षा ऋतू झूमती इठलाती गर्जन करती आती है और पेड़-पौधे, पशु पक्षियों, जीव-जन्तुओ में नवजीवन संचार कर चली जाती है उसके बाद ही शरद की मनभावन व सुहावनी ऋतू का आगमन होता है।

Autumn Season

घरती अपनी हरी चादर बिछाये शरद ऋतू की स्वागत करती है सूर्यदेव धनरूपी रहू के आक्रमण से सुरक्षित होकर अपनी प्रखर किरणें फ़ैलाने लगते है इस ऋतू में सभी जगहमें खुशहाली छाई रहती है इस ऋतू को पतझड़ ऋतु भी कहा जाता है।

शरद ऋतु के प्रमुख त्यौहार

संख्यात्यौहार का नामFestival English Name
1.हरतालिका तीज Hartalika Teej
2.गणेश चतुर्थीGanesh Chaturthi
3.विजयदशमीvijayadashmi
4.शरद नवरात्रि प्रारंभSharad Navratri begins

5. हेमंत ऋतु (Hemat Season)

Hemat-Season

हेमंत ऋतू कड़कड़ाते शीत की ऋतू है इस ऋतू के दौरान पर्वतों पर बर्फ गिरने लगते है आकाश में कोहरा छा जाता है ठंडी हरावे हमरे शारीर के ऊनि वस्त्रो को चीरकर शारीर को प्रकंपित कर देती है शार में काफी ज्यादा ठण्ड महसूर होने लगता है यह मैसम अक्टूबर से दिसम्बर के बिच में आता है।

हेंमत ऋतु के प्रमुख त्यौहार

संख्यात्यौहार का नामFestival English Name
1.छठ पूजाChhath Puja
2.गुरू नानक जयंतीGuru Nanak Anniversary
3.तुलसीविवाहTulsi marriage
4.गोपाष्टमीGopashtami
5.भाईदूजDiwali
6.गोवर्धन पूजाGovardhan puja
7.महालक्ष्मी पूजनWorshiping Mahalaxmi
8.नरक चतुर्दशीNarak chaturdashi
9.अहोई अष्टमीAhoi Ashtami

6. शीत ऋतु (Winter Season)

शीत ऋतू भारत की 6 ऋतुओ में से एक है यह दिसंबर से शुरू होकर मार्च तक रहती है इस ऋतू को पतझड़ ऋतू भी कहा जाता है यह पतझड़ से शुरू होकर वसंत ऋतू आने से समाप्त हो जाती है इस ऋतू में ठंडी हवाये के साथ साथ मैसम का तापमान काफी कम हो जाता है और दिन छोट और राते लम्बी होने लगती है कुछ दिन तो तो ऐसे भी आते है जब घने कोहरे कुछ धुंध के कारण कुछ भी दिखाई नहीं देता है।

Winter Season

पुरे भारत में सर्दी का मौसम एक जैसा नहीं होता है तटीय क्षेत्रो में न तो ज्यादा ठण्ड पड़ती है न तो ज्यादा गर्मी यहाँ मौसम सुहाना रहता है इस ऋतू में प्रमुख सब्जियां और फल पालक, मेथी, गोभी, मटर, गाजर, अमरूद, संतरा, आवला, अंगूर इत्यादि फल पाये जाते है।

शीत ऋतु के प्रमुख त्यौहार

संख्यात्यौहार का नामFestival English Name
1.मकर संक्रांतिMakar Sankranti
2.वसंत पंचमीVasant Panchami
3.गुरू गोविन्द सिंह जयंतीGuru Gobind Singh Jayanti
4.लोहड़ी त्यौहारLohri festival
5.पोंगलPongal
6.गणतंत्र दिवसRepublic Day
7.क्रिसमसChristmas

FAQ

Q : ऋतू कितने प्रकार के होते है?

Ans : ऋतू 6 प्रकार के है।

Q : 6 ऋतुओ के नाम क्या है?

Ans : वसंत ऋतु, ग्रीष्म ऋतु, वर्षा ऋतु, शरद ऋतु, हेंमत ऋतु, शीत ऋतु।

Q : ऋतुओं का राजा कौन है?

Ans : भारत में सभी ऋतुओं में बसंत ऋतु को ऋतुओ का राजा माना जाता है। 

Q : वसंत ऋतु कब आता है?

Ans : वसंत ऋतू का आगमन मार्च-अप्रैल के महीने में होते है।

Q : शरद ऋतु कब आता है?

Ans : अक्टूबर से नवंबर महीने में शरद ऋतू आता है।

Q : शरद व शीत ऋतु में क्या अंतर है?

Ans : शरद ऋतू ठंडी थोड़ा कम लगती है वही शीत ऋतू में काफी ज्यादा ठंडी पड़ती है और कई जगहो पर कसके बर्फ की बारिश भी होती है इस मौसम में इतनी ज्यादा ठण्ड पार्टी है की काफी भी गर्मी का अहसास भी नहीं होता है।

Q : चार ऋतु में कौन कौन सी हैं?

Ans : वर्षा, ग्रीष्म, शरद, हेमंत

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे Social Media पर जरुर Share करे।

Related Articles :-

Leave a Comment