close button

क्रिप्टो करेंसी क्या है – क्रिप्टो करेंसी के फायदे व नुकसान

Author: Nishant Singh Rajput | 4 weeks ago

What is Crypto Currency in Hindi : आपने अक्सर इन्टरनेट और न्यूज़ पर क्रिप्टो करेंसी के बारे में सुना होगा लेकिन बहुत सारे लोगो को ये मालूम नहीं नहीं की आखिर ये क्रिप्टो करेंसी क्या है और इसे कैसे यूज किया जाता है आइये विस्तार से समझते है। 

क्रिप्टो के आने से पहले था बाटर सिस्टम जिसमे जिसमे गेहू के बदले जूते, आम के बदले सेब, नमक के बदले आदि लेकिन इसमें दिक्कत यह थी की अगर कोई आम के बदले सेब या गेहू के बदले जूते न ले तो इसीलिए मुद्राओ का इस्तेमाल करना शुरू हुआ इसमें सोने के, चाँदी के, ताम्बे के सिक्के इस्तेमाल होने लगे। 

Cryptocurrency kya hai

देश अलग होने से पहले दमरी, टाका, पाई, आना, चवन्नी, अठन्नी आदि सिक्के चलते थे लेकिन सिक्को के भारी होने के वजह स कही ले जाने में परेशानी होती थी इसलिए पेपर करेंसी यानि नोट आना शुरू हुए नोटों के इतिहास तो हम से सभी लोग जानते है जो पहले 10000 तक बड़े बड़े नोट शुरू होकर जो वॉलेट में भी न आये नोट छोटे से छोटे होते गये। 

आज से ठीक 5 साल पहले कोई यह भी नहीं सोचा होगा की की एक QR CODE को स्कैन करके पैसे भेजे जा सकते है वर्तमान समय में हर लोगो के स्मार्टफोन में Google Pay, Paytm, PhonePe आदि ऐप देखने को मिल जायेगा जिससे आप किसी भी QRCODE पर स्कैन करके मन चाहे पैसे भेज सकते है। 

अब बहुत सारे लोगो के मन में यहाँ सवाल आ रहा होगा की क्रिप्टो करेंसी क्या है और डिजिटल करेंसी क्या है इसे कैसे यूज किया जाता है क्रिप्टो करेंसी का भविष्य क्या है आदि जानकारी यहाँ आपको एक एक करके सभी जानकारी को बिलकुल आसान भाषा में समझायेंगे इसलिए पोस्ट पर अंत तक बने रहे।

क्रिप्टो करेंसी क्या है

क्रिप्टो करेंसी में क्रिप्टो का अर्थ छुपा हुआ और करेंसी का मतलब रूपया, यानि हम क्रिप्टो करेंसी का मलतब छुपा हुआ पैसा कह सकते है इसे हम दूसरी भाषा में डिजिटल करेंसी भी कहते है क्रिप्टो करेंसी एक वर्चुअल करेंसी है जिसे हम अपने पॉकेट में या घर में नहीं रख रख सकते है बल्कि उसे ऑनलाइन किसी वॉलेट में डिजिटल तरीके से रख सकते है और बिना की झंझट के इसे कही भी इस्तेमाल कर सकते है। 

क्रिप्टो मुद्रा (Cryptocurrency) एक ऐसा मुद्रा होता है जो केवल डिजिटल रूप में होता है और इसके बजाय कोई तरह का स्थानीय मुद्रा या संपत्ति नहीं होती। यह एक डिजिटल मुद्रा होता है जो किसी भी क्रिप्टोग्राफिक एलगोरिथ्म (Cryptographic Algorithm) के साथ काम करता है और इसका उपयोग केवल इंटरनेट पर होता है। इसके अलावा, क्रिप्टो मुद्रा को स्वयं संचालित होने वाला एक स्वतंत्र मुद्रा भी माना जाता है, जिसे किसी भी संस्था या सरकार द्वारा नहीं नियंत्रित या नियंत्रित किया जाता है।

इसे आप डिजिटल करेंसी के रूप में इस्तेमाल कर सकते है क्रिप्टो करेंसी को सबसे पहले साल 2009 में शुरू किया गया था और इसका सबसे पॉपुलर करेंसी बिटकॉइन है जिसके बारे में अक्सर इन्टरनेट या न्यूज़ पर सुनने को मिलता है वर्तमान में 1 बिटकॉइन की कीमत 1377295 भारतीय रूपए के बराबर है।

Crypto Currency Meaning in Hindi

क्रिप्टो मुद्रा एक वैधता नहीं होने वाला मुद्रा होता है जो डिजिटल रूप में ही होता है और इसे किसी भी सरकार या बैंक द्वारा नहीं नियंत्रित या नियंत्रित किया जाता है। इसे डिजिटल पैसों के रूप में भी जाना जाता है। क्रिप्टो मुद्रा के संचार को एक सुरक्षित और एन्क्रिप्टेड (गुप्त) ढंग से संचालित किया जाता है, जो इसे एक सुरक्षित और गुमनाम रूप से संचालित करने में मदद करता है।

क्रिप्टो मुद्रा का उपयोग अधिकांश स्थानों पर इन्टरनेट पर ऑनलाइन खरीदारी और बेचने के लिए होता है, जैसे कि ऑनलाइन विक्रेताओं से खरीदारी.Cryptocurrency एक विकलांग मुद्रा होता है जो कंप्यूटरों और इंटरनेट पर आधारित होता है। यह एक स्वतंत्र और दूसरों से अलग मुद्रा होता है जो बंद नहीं होता है और किसी भी सरकार या बैंक द्वारा नहीं नियंत्रित होता है।

यह एक डिजिटल मुद्रा होता है जो बैकेंड्स, ईलेक्ट्रॉनिक वॉलेट्स और ऑनलाइन बैंकिंग सेवाओं के माध्यम से हस्तांतरण किया जा सकता है। क्रिप्टोकरेंसी एक प्रकार का डिजिटल मुद्रा है जो प्राचीन काल से स्वतंत्रता और गोपनीयता की मांग करने वालों द्वारा चर्चित है।

क्रिप्टो करेंसी के प्रकार -Types of Crypto Currency

वर्तमान समय में मक्रेट में हजारों क्रिप्टो करेंसी बाजार में आ गई है लेकिन उनमे सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाले क्रिप्टो करेंसी के बारे में निचे बताया गया है

  1. बिटकाइन (Bitcoin)
  2. सिया कॉइन (Sia Coin)
  3. रेड कॉइन (Red Coin)
  4. एसवाईएस कॉइन (SYS Coin)
  5. ईथर और ईथरम (Ether Or Ethereum)
  6. मोनेरो (Monero)
  7. लाइटकॉइन (Lite Coin)
  8. बिनेंस कॉइन (Binance Coin)
  9. सोलाना (Solana)

1. बिटकाइन (Bitcoin)

आज के समय में दुनियाभर में सबसे महँगी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन है, जिसे वर्तमान समय में बड़े बड़े लोग पैसो के लेन-देन में करते है या बिटकॉइन एक संचय प्रणाली है जो एक प्रकार का स्थाई मुद्रा है। यह डिजिटल मुद्रा है जो किसी भी केंद्रीय वित्तीय प्राधिकरण या बैंक की नहीं है। बिटकॉइन एक ओपन-सोर्स, प्रमुख-रूप से देश-निर्मित मुद्रा है जो किसी भी व्यक्ति या संगठन द्वारा बनाई जा सकती है।

 यह एक अल्गोरिथ्म मुद्रा है जो संचय प्रणाली के माध्यम से नियंत्रित होती है और परमिशन की आवश्यकता होती है। बिटकॉइन मुद्रा का उपयोग कई देशों में होता है और यह विश्व भर में मार्केट में बेचा जा सकता है।

2. सिया कॉइन (Sia Coin)

Sia Coin (सिया कोइन) एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो सर्वर पर स्थापित एक स्थानीय स्टोरेज नेटवर्क पर आधारित है। इसमें उपयोगकर्ताओं को अपने डेटा को अपने स्थानीय हार्ड डिस्क पर स्थापित नहीं होने पर भी सुरक्षित रूप से स्थानांतरित करने की सुविधा मिलती है। सिया कोइन एक प्राइवेटी शीघ्रपति है, जो ब्लॉकचैन पर आधारित है और एक नए ब्लॉकचेन की स्थापना के लिए सिया कोइन को इस्तेमाल किया जाता है।

3. रेड कॉइन (Red Coin)

रेड कॉइन का यूज अधिकांश लोग पर्व और अवसरों पर लोगों को टिप देने के लिए करते है।

4. एसवाईएस कॉइन (SYS Coin)

SYS Coin एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो ब्लॉकचेन पर आधारित है और उपयोगकर्ताओं को स्थानीय स्टोरेज सेवाओं प्रदान करता है। सिसी कोइन संचार और डाटा सुरक्षा सेवाओं को समर्थित करने के लिए डिस्ट्रिब्यूशन ट्रैकिंग की एक प्रणाली प्रदान करता है। सिसी कोइन को ब्लॉकचेन नेटवर्क पर स्थापित करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

5. ईथर और ईथरम (Ether Or Ethereum)

Ethereum Coin (ईथरीयम कोइन) एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो ब्लॉकचेन पर आधारित है। इसे स्थानीय स्टोरेज सेवाओं को समर्थित करने के लिए और संचार और डाटा सुरक्षा सेवाओं को समर्थित करने के लिए डिस्ट्रिब्यूशन ट्रैकिंग की एक प्रणाली प्रदान करता है। ईथरीयम कोइन का उपयोग स्वयं ही एक विशेष रूप इस्तेमाल किया जाता है।

6. मोनेरो (Monero)

Monero Coin (मोनेरो कोइन) एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो ब्लॉकचेन पर आधारित है। इसे स्वतंत्र और गोपनीय संचार सेवाओं को समर्थित करने के लिए और डाटा सुरक्षा सेवाओं को समर्थित करने के लिए डिस्ट्रिब्यूशन ट्रैकिंग की एक प्रणाली प्रदान करता है। 

मोनेरो कोइन का उपयोग स्वतंत्र और गोपनीय संचार सेवाओं को समर्थित करने के लिए किया जाता है, जैसे कि ईमेल और स्मार्टफोन संचार। इसमें उपयोगकर्ताओं को अपने डेटा को अपने स्थानीय हार्ड डिस्क पर स्थापित नहीं होने पर भी सुरक्षित रूप से स्थानांतरित करने की सुविधा मिलती है।

7. लाइटकॉइन (Lite Coin)

Lite Coin (लाइट कोइन) एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो ब्लॉकचेन पर आधारित है और स्वतंत्र और गोपनीय संचार सेवाओं को समर्थित करने के लिए और डाटा सुरक्षा सेवाओं को समर्थित करने के लिए डिस्ट्रिब्यूशन ट्रैकिंग की एक प्रणाली प्रदान करता है। 

लाइट कोइन का उपयोग स्वतंत्र और गोपनीय संचार सेवाओं को समर्थित करने के लिए किया जाता है, जैसे कि ईमेल और स्मार्टफोन संचार। इसमें उपयोगकर्ताओं को अपने डेटा को अपने स्थानीय हार्ड डिस्क पर स्थापित नहीं होने पर भी सुरक्षित रूप से स्थानांतरित करने की सुविधा मिलती है।

8. बिनेंस कॉइन (Binance Coin)

Binance Coin (बाइनंस कोइन) एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो ब्लॉकचेन पर आधारित है और एक व्यापारिक एक्सचेंज पर आधारित है यह व्यापारिक एक्सचेंज एक ऑनलाइन मार्केटप्लेस है जो उपयोगकर्ताओं को विभिन्न क्रिप्टोकरेंसी मुद्राओं के बीच में व्यापार करने के लिए उपयोग किया जाता है।

9. सोलाना (Solana)

Solana Coin (सोलाना कोइन) एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो ब्लॉकचेन पर आधारित है और स्थानीय स्टोरेज सेवाओं को समर्थित करने के लिए और संचार और डाटा सुरक्षा सेवाओं को समर्थित करने के लिए डिस्ट्रिब्यूशन ट्रैकिंग की एक प्रणाली प्रदान करता है। 

क्रिप्टोकरेंसी के फायदे – Crypto Currecy Benefits

क्रिप्टो मुद्रा (Crypto Currency) एक वैश्विक स्तर पर स्वतंत्र और दूरस्थ पैसा व्यवहार सेवा है। इसके कुछ महत्वपूर्ण फायदे हैं।

  1. अनुमति: क्रिप्टो मुद्रा उपयोगकर्ताओं को अपनी स्वयं चुनी हुई मुद्रा में ट्रांजक्शन करने की अनुमति देता है।
  2. गोपनीयता: क्रिप्टो मुद्रा ट्रांजक्शन गोपनीयता के साथ होते हैं, जो उपयोगकर्ताओं को अपने स्वामित्व और सुरक्षा के बारे में चिंता हो।
  3. नार्मल तरीके से लेन-देन और क्रिप्टो करेंसी इ लेन देंन में अंतर होता है क्रिप्टो करेंसी का लेन देन काफी सुरक्षा और निगरानी के साथ होता है।
  4.  क्रिप्टो मुद्राओं के संचार मार्ग सुरक्षित होते हैं और इनमें उपयोगकर्ताओं की पहचान सुरक्षित रखी जाती है।
  5. स्वतंत्रता: क्रिप्टो मुद्राओं में बैंकों और सरकारों की कमी होती है, जिससे ये स्वतंत्र होते हैं और उपयोगकर्ताओं को स्वयं ही अपने मुद्राओं का नियंत्रण करने की सुविधा मिलती
  6. क्रिप्टो मुद्राओं के ट्रांसेक्शन में स्वामित्व सूचनाओं का उपयोग नहीं होता है, जिससे इनमें संचार को गोपनीय रूप से रखा जा सकता है।

क्रिप्टो करेंसी से नुकसान – Crypto Currency Disadvantages 

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एक तरह का विकल्प है जो हमारे सामान्य मुद्राओं जैसे कि रुपये, डॉलर आदि से अलग होता है। इसमें संचार और ट्रांजक्शन (transactions) को सुरक्षित और गोपनीय रूप से प्रदान किया जाता है। हालांकि, क्रिप्टोकरेंसी में कुछ नुकसान भी हैं जो निम्नलिखित हैं।

  1. व्यापक अस्पष्टता: क्रिप्टो मुद्रा की विधियों और व्यवस्थाओं से अधिकांश लोग गैरजिम्मेदार हैं, जिसके कारण इनमें स्थानांतरण करने में समस्याएं हो सकती हैं।
  2. सुरक्षा समस्याएं: क्रिप्टो मुद्राओं में नकदी स्थानांतरण करने की सुविधा होती है, लेकिन इसमें सुरक्षा समस्याएं भी हो सकती हैं।

क्रिप्टो करेंसी से पैसे कैसे कमाए

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) से पैसे कमाने के लिए कुछ विकल्प हैं।

  1. स्थानांतरण करें: आप अपने क्रिप्टोकरेंसी को अपने स्थानीय मार्केट में स्थानांतरित करके स्थानीय मुद्रा में वसूल कर सकते हैं।
  2. ऑनलाइन खरीदारीओं में इसे उपयोग करें: अगर आप अपने क्रिप्टोकरेंसी को ऑनलाइन खरीदारीओं में उपयोग करते हैं, तो आप अपने क्रिप्टोकरेंसी से पैसे कमा सकते हैं।
  3. मार्केट प्लेसमें ट्रेड करें: आप अपने क्रिप्टोकरेंसी को मार्केट प्लेस पर ट्रेड करके भी पैसे कमा सकते है।

क्रिप्टो करेंसी कैसे ख़रीदे

Cryptocurrencies में की इन्वेस्ट करने से पहले आपको इस बात का तय करना होगा की आप किस प्लेटफॉर्म से अपना निवेश करते है क्योकि अगर आपने अनजाने में कोई गलत प्लेटफॉर्म का चुनाव कर लेते है तो आपको अधिक चार्ज देना पड़ सकता है भारत में कुछ पॉपुलर Cryptocurrencies invest प्लेटफार्म है जो WazirX, CoinDCX, Coin Swotch Kuber आदि।

[Crypto Currency Kya Hai Video]

FAQ

Q : क्रिप्टोकरेंसी क्या होती है?

Ans : क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एक ऐसा मुद्रा है जो डिजिटल रूप से ही मान्य होता है और इसे स्वतंत्र और गोपनीय संचार सेवाओं को समर्थित करने के लिए और डाटा सुरक्षा सेवाओं को समर्थित करने के लिए डिस्ट्रिब्यूशन ट्रैकिंग की एक प्रणाली प्रदान करता है।

Q : क्रिप्टो करेंसी का उपयोग कैसे किया जाता है?

Ans : क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) का उपयोग कई तरह से किया जा सकता है। आप इसे अपने स्थानीय मार्केट में स्थानांतरित कर सकते हैं या फिर अपने ऑनलाइन खरीदारीओं में इसे उपयोग कर सकते हैं। कुछ स्थानों पर, आप क्रिप्टोकरेंसी को अपने स्थानीय मार्केट में स्थानांतरित करके स्थानीय मुद्रा में वसूल भी कर सकते हैं।

उम्मीद करता हूँ की आपको यह पोस्ट क्रिप्टो करेंसी क्या है (Crypto Currency in Hindi) पसंद आया होगा अगर आपको इसके बारे में समझने में कोई दिक्कत हो या कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है हम आपके प्रश्न का उत्तर जरूर देंगे।

अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगा तो अपने दोस्तों के साथ आगे सोशल मीडया पर शेयर करे।

Related Articles :-

Share on:

मै निशांत सिंह राजपूत इस ब्लॉग का फ़ाउंडर हूँ। मुझे अलग-अलग चीजों के बारे में लिखना और उन्हें आप तक पहुँचाने में रूचि है, मै करीब 3 वर्ष से अधिक समय से कंटेंट राइटिंग कर रहा हूँ। मेरे द्वारा लिखा गया कंटेंट आपको कैसा लगा, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Leave a Comment